आंख में गुहेरी का घरेलू इलाज | Guheri ka ilaj

Spread the love

आंख में गुहेरी का घरेलू इलाज | Guheri ka ilaj: गुहेरी या आँखों पर फुन्सी (Stye) – पलकों में दाने निकलना कारण, लक्षण और घरेलू चिकित्सा दोस्तों आँखों पर जो फुन्सी निकल जाती है उसे गुहेरी या बिलनी भी कहा जाता है

असल में ये एक छोटी खील जैसी आंख पर हो जाती है ये पलकों पर दाने दाने जैसी दिखाई देती है आज इसी आंख पर होने वाली फुंसी के कारण लक्षण और घरेलु इलाज एवं नुश्खे सीखेंगे और गुहेरी या बिलनी को जड़ से सही करेंगे

गुहेरी को अंग्रेजी में Stye भी कहते है इसका मतलब होता है एक जीवाणु संक्रमण जिसमें आपकी पलकों के आधार के पास एक या अधिक छोटी ग्रंथियो का पनप जाना

आंख में गुहेरी का घरेलू इलाज | Guheri ka ilaj

गुहेरी का कारण

आंखों की सफाई अच्छे से ना होने के अभाव में जीवाणु संक्रमण के कारण ये रोग हो जाता है।

गुहेरी का लक्षण

पलकों के बीच में या ऊपर की तरफ दाने निकलते हैं, जिनमें लालिमा और थोड़ा दर्द होता है। बाद में दाने पककर फूट जाते हैं। कभी-कभी एक दाना ठीक होने पर दूसरा एवं दूसरा दाना ठीक होने पर तीसरा निकलता है

एवं इस तरह एक के बाद एक दानें निकलते ही रहते हैं। आंखों की अच्छे से पूरी तरह सफाई न करने से संक्रमण होने के कारण ये रोग हो जाता है।

गुहेरी का घरेलू इलाज

  • इमली के बीजों को जल में अच्छे से भिगोकर उसका छिलका उतार लें। उसके बाद बीज की गिरी को पत्थर पर घिसकर आंख में लगाएं।
  • हलके गर्म जल की सेंक करें।
  • त्रिफला एक-एक चम्मच सुबह-शाम दूध के साथ लें। त्रिफला रात को जल में भिगोकर रखें और सुबह इस जल को छानकर आंखों को धोएं।
  • आयुर्वेदिक औषधियां
  • चन्द्रोदय वर्ति, लोध्रादिसेक, धात्रीफलादि सेचन, निम्बपत्रादि योग का प्रयोग इस रोग की चिकित्सा हेतु बताया गया है।

आंख में गुहेरी का घरेलू इलाज | Guheri ka ilaj

दोस्तों आयुर्वेदिक औषधियां लेते वक़्त डॉक्टर की सलाह से जरूर लेवे

Leave a Comment