उच्च रक्तचाप हाई ब्लड प्रेसर – कारण,लक्षण,उपाय

Spread the love

उच्च रक्तचाप हाई ब्लड प्रेसर का कारण: विश्व भर में होने वाली कुल मौतों में से लगभग एक चौथाई उच्च रक्त चाप के कारण होती हैं। अभी तक उच्च रक्त चाप के अधिकतर रोगी 40-45 वर्ष की अवस्था के बाद इस रोग की गिरफ्त में आते थे, किंतु अब इस रोग का शिकंजा युवाओं को भी अपनी लपेट में ले रहा है। हृदय रोगियों में से लगभग 30 प्रतिशत तथा सामान्य व्यक्तियों में से लगभग 10 प्रतिशत उच्च रक्तचाप से पीड़ित हैं।

मुख्यत: धमनियों में लचीलापन कम होने व काठिन्य बढ़ने से तथा वाम हृदय दौर्बल्य के कारण रक्तचाप बढ़ता है। कोलेस्ट्रोल के जमाव के कारण रक्त-वाहिनियों का संकरा हो जाना भी इस रोग की उत्पत्ति में सहायक है। चिंता, क्रोध, तनाव आदि मानसिक भाव भी इस रोग को उत्पन्न कर सकते हैं, बेशक रोगी का हृदय व धमनियां पूर्ण स्वस्थ क्यों न हों। यह रोग शारीरिक श्रम न करने वाले, अधिक वसायुक्त भोजन करने वाले व्यक्तियों में अधिकार होता है।

उच्च रक्तचाप हाई ब्लड प्रेसर का लक्षण

नींद में कमी, धड़कन का बढ़ना, चक्कर आना, घबराहट, बेचैनी, थोड़ी-सी मेहनत करने से ही सांस फूल जाना तथा बिना कारण के गुस्सा आना, ये इस रोग के मुख्य लक्षण हैं।

उच्च रक्तचाप हाई ब्लड प्रेसर का घरेलू उपाय

लहसुन की एक-दो कली सुबह खाली पेट पानी के साथ लें।

सर्पगंधा का चूर्ण आधा-आधा चम्मच प्रात: व सायं लें।

2 से चार तक कच्चे आंवले सुबह-शाम चबाएं या एक-एक चम्मच आंवले का चूर्ण सुबह-शाम पानी के साथ लें।

प्याज का रस व शहद एक-एक चम्मच मिलाकर प्रात: खाली पेट लें।

मुसम्मी या संतरे का रस रोगी को एक-एक गिलास सुबह-शाम दें।

1 नीबू के रस में 1 चम्मच शहद मिलाकर 1 गिलास पानी में सुबह खाली पेट व शाम को भोजन से एक घंटा पहले लें।

रोगी को प्रात:काल व्यायाम करना चाहिए तथा नंगे पैर घास पर घूमना चाहिए। मांस, मदिरा, तंबाकू व अधिक वसायुक्त भोजन का त्याग कर देना चाहिए। चिंता, क्रोध व तनाव से बचने हेतु योग व ध्यान में प्रवृत्त होना चाहिए। हरी सब्जियों, परवल, करेला, पपीता तथा फलों के शरबत का सेवन विशेष रूप से करना चाहिए ताकि पेट साफ रहे।

आयुर्वेदिक औषधियां

सर्पगन्धावटी, अर्जुनारिष्ट, याकूती, वातचिन्तामणि रस, मोती भस्म, जवाहर मोहरा, अकीक पिष्टी।

पेटेंट औषधियां

सपेरा फोर्ट गोलियां (चरक), ब्रेन्टो गोलियां (झण्डु), सर्पाइना गोलियां (हिमालय) उच्च रक्तचाप में लाभकारी हैं।

उच्च रक्तचाप हाई ब्लड प्रेसर – कारण,लक्षण,उपाय

Leave a Comment