Look back in anger summary in hindi

Spread the love

Look back in anger summary in hindi: “लुक बैक इन Anger” एक नाटक है जिसका लेखक जॉन ओसबोर्न (John Osborne) है। यह नाटक 1956 में पहली बार प्रकाशित हुआ था और यह ब्रिटिश नाटक इतिहास में महत्वपूर्ण एक कदम था।

और इस “लुक बैक इन Anger” नाटक ने ब्रिटिश थिएटर को एक नई दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, क्योंकि इसने नये और उदात्त दृष्टिकोण की दिशा में बदलाव किया। और इस नाटक ने व्यक्तिगत संघर्षों, व्यक्तिगत स्वार्थ, और सामाजिक परिप्रेक्ष्य को एक साथ मिलाकर प्रस्तुत किया था।

Look back in anger summary in hindi

और यह ब्रिटिश थियेटर की एक प्रमुख कविता के रूप में गिना जाता है। “Look Back in Anger” नाटक का पात्रकारी और सामाजिक विचार के प्रति उत्कृष्ट प्रतिसाद के लिए प्रसिद्ध होने के साथ-साथ यह नाटक परिपूर्ण व्यक्तिगतता के आदान-प्रदान को भी प्रस्तुत करता है।

“लुक बैक इन Anger” कहानी इंग्लैंड के पोस्ट-वर्ल्ड वॉर दो दशकों के बीच के समय की है और एक युवा व्यक्ति जिमी पॉर्टर के चारित्रिक विकास को दर्शाती है, जो एक निम्न मध्यम वर्ग के व्यक्ति है और वह उसके समाज में महसूस की गई उन्नति की कमी के लिए अपने भाग्य का दोष देता है। उसकी भावनात्मक तनाव, व्यक्तिगत और सामाजिक समस्याएँ, और उसकी पत्नी आलिसन के साथ के संबंधों के माध्यम से नाटक का प्लॉट प्रगति करता है।

इसमें प्रमुख पात्र जिमी पॉर्टर (Jimmy Porter) एक युवा और प्रतिभाशाली व्यक्ति है जो नीचे कक्षा की नीति, समाज में दिखाए जाने वाले विभेद और उसके स्वयंसेवक दृष्टिकोण की चर्चा करता है।

जिमी का आक्रोश, उसकी असंतुष्टि और उसकी आत्म-समर्पण की अवस्था का परिप्रेक्ष्य, नाटक को एक उत्तेजक, सोचने पर मजबूर करने वाला, और महत्वपूर्ण विचारों से भरपूर बनाता है।

जिमी का पात्र एक बेहद प्रकारी और उत्साही युवक है, जो अपने समाज में विचारधारा, नैतिकता और सामाजिक न्याय के प्रति आपत्ति रखता है। उसकी पत्नी, अलिसन, और उसके मित्र क्लिफटन भी इस विचारधारा और उसके क्रियाशीलता के प्रति उसके खिलाफ होते हैं, जिससे परिवार के बीच विवाद होते हैं।

“Look Back in Anger” नाटक में समाज में होने वाले विभेद, तनाव, प्यार और निराशा के विचार किए गए हैं, जिससे यह एक सख्त और सतर्क नाटक है जिसने ब्रिटिश थियेटर की दिशा बदल दी थी।

आपको इस नाटक की कहानी समरी कैसी लगी कमेंट करके बताये।

Look back in anger summary in hindi

Leave a Comment