मोटापा – कारण,लक्षण,उपाय

Spread the love

मोटापा का कारण: खाने-पीने में वसायुक्त पदार्थों का अधिक प्रयोग, शारीरिक श्रम का पूर्णत: अभाव और दोषपूर्ण जीवन प्रणाली मोटापे का मुख्य कारण है। कभी-कभी मोटापा वंशानुगत भी चलता है। हारमोन असंतुलन के कारण भी मोटापा बढ़ सकता है।

मोटापा का लक्षण

शरीर के आकार व भार में लगातार वृद्धि होना, शरीर में चुस्ती, फुर्ती की कमी होना आदि।

मोटापा का घरेलू उपाय

सर्वप्रथम व्यक्ति को अपनी जीवन प्रणाली में सुधार करना चाहिए। शारीरिक व्यायाम व योगाभ्यास के अतिरिक्त अधिक वसायुक्त भोजन का त्याग करना चाहिए। खाने में फलों, सब्जियों व सलाद की मात्रा बढ़ा देनी चाहिए। मिठाई, आइसक्रीम, तले हुए भोजन को त्याग देना चाहिए।

मूली के बीजों को अत्यंत बारीक पीसकर रख लें। 1 चम्मच चूर्ण को चार चम्मच शहद में मिलाकर चाटें। ऊपर से 1 गिलास पानी में चार चम्मच शहद व नीबू निचोड़ कर लें।

10 ग्राम त्रिफला चार चम्मच शहद में मिलाकर चाटें, ऊपर से चार चम्मच शहद पानी में मिलाकर पिएं।

भोजन से पहले टमाटर, गाजर, खीरा, पपीता, पत्ता गोभी का सलाद काफी मात्रा में खाएं।

आयुर्वेदिक औषधियां

मेदोहर विडंगादि लौह, आरोग्यवर्धिनी वटी, नवाय लौह व नवक गुग्गुल का प्रयोग किया जा सकता है।

पेटेंट औषधियां

स्मार्ट कैप्सूल (माहेश्वरी), ओबेनिल गोलियां (चरक) भी अच्छा कार्य करती हैं।

मोटापा – कारण,लक्षण,उपाय

Leave a Comment