सिर दर्द होने के कारण और उपाय

Spread the love

सिर दर्द होने के कारण और उपाय: यह एक सर्वव्यापी समस्या है, जो किसी भी आयु वर्ग में कभी-न-कभी देखने को मिलती है। सिर दर्द वास्तव में अनेक रोगों के लक्षण के रूप में मिलता है। मानसिक रोगों जैसे चिंता, शोक, क्रोध, अनिद्रा के अलावा शारीरिक रोगों कब्ज, कमजोरी, साइनोसाइटिस आदि में सिर दर्द की शिकायत मुख्य रूप से मिलती है।

सिर दर्द होने के कारण और उपाय

शारीरिक व मानसिक, दोनों ही प्रकार के रोगों में बदलती हुई दोषपूर्ण जीवनशैली मुख्य रूप से जिम्मेवार है। आयुर्वेद में शिरो रोग के अंतर्गत वर्णित इस रोग के 10 भेद किए गए हैं। यदि लंबे समय तक सिर दर्द बना रहे, तो चिकित्सक से जांच करा कर मूल रोग की चिकित्सा कराएं। निम्नलिखित योगों का प्रयोग सिर दर्द के सामान्य उपचार के रूप में कर सकते हैं-

नौसादर और चूना बारीक करके शीशी में कड़ी डाट लगाकर रखें। इसे सूंघने से सिर दर्द में तुरंत लाभ होता है।

सिर और माथे पर बादाम रोगन की मालिश करें।

काली मिर्च का चूर्ण भांगरे के स्वरस के साथ पीसकर नस्य लें।

भांगरे के रस में बराबर का दूध मिलाकर प्रयोग करें।

आक के पत्ते गर्म करके सिर पर बांधें।

तारपीन के तेल में थोड़ा कपूर मिलाकर नस्य लें।

तुलसी के पत्ते कूट-पीसकर छान लें। यह चूर्ण नसवार की भांति सूंघने से सिर दर्द दूर हो जाता है।

छोटी इलायची के बीज बारीक पीसकर नसवार की तरह सूंघें।

5 ग्राम आकाशबेल को पानी या बकरी के दूध में घोटकर सुबह खाली पेट पिलाएं। एक-से दो सप्ताह तक दें।

1 भाग धनिया, 2 भाग उस्तेखद्दूस व 1 भाग काली मिर्च को कूट पीसकर चूर्ण बना लें। आधा चम्मच दवा सुबह खाली पेट लें। लगभग 10-15 दिन तक प्रयोग करें।

यदि कब्ज के कारण सिर दर्द हो, तो रात को सोते समय एक चम्मच त्रिफले या आंवले का चूर्ण गर्म पानी से लें।

यदि धूप में घूमने से सिर दर्द हो, मेहंदी के फूल सिरके में पीसकर माथे पर लेप करें।

यदि ठंड में घूमने से सिर दर्द हुआ हो, तो दालचीनी को पानी के साथ पीसकर माथे पर लेप करें।

आक के पत्तों का रस 2-2 बूंद दोनों नथुनों में डालें।

आयुर्वेदिक औषधियां

दशमूल तेल व षड्बिन्दु तेल, का नस्य सिर दर्द में लिया जाता है। खाने के लिए ‘शिर:शूल वज्रादि रस, चंद्रकांता रस व महालक्ष्मी विलास रस का प्रयोग किया जाता है।

पेटेंट औषधियां

सिफाग्रेन गोलियां व नाक में डालने की दवा (चरक), गोदन्ती मिश्रण (बैद्यनाथ), ट्रेक्वीनील फोर्ट गोलियां (चरक)।

सिर दर्द होने के कारण और उपाय

Leave a Comment