हिचकी के कारण और उपाय

हिचकी के कारण: साधारणत: श्वास महापेशी के संकुचन के समय कंठ कपाट खुला रहता है, जिससे सांस अंदर आ जाता है। लेकिन कभी-कभी श्वास महापेशी में अचानक ही संकुचन हो जाता है और यह बार-बार सिकुड़ने लगती है, जबकि कंठकपाट बंद होता है। इससे अंदर का सांस रुक जाता है और ‘हिक’ जैसी ध्वनि निकलती … Read more